हिंद स्वराष्ट्र भागलपुरः बिहार के भागलपुर में गुरुवार की रात एक-एक कर कई धमाके हुए जिससे पूरा शहर दहल उठा. धमाके की गूंज पूरे शहर में सुनाई दी. धमाका इतना जबरदस्त था कि इससे दो से तीन मकानों को नुकसान पहुंचा है. भागलपुर में हुई इस बम विस्फोट की घटना में चार लोगों की मौत और 12 लोगों के गंभीर रूप से घायल होने की पुष्टि हुई है. भागलपुर रेंज के डीआईजी सुजीत कुमार ने घटना के प्राथमिक कारणों में बारूद, पटाखा और देसी बम बनाने की बात कही है. कहा कि एफएसएल की जांच के बाद कई चीजें सामने आएंगी.
घटना कोतवाली थाने से महज 100 मीटर की दूरी पर स्थित एक मकान की है. इस ब्लास्ट से एक तीन मंजिला मकान जमींदोज हो गया. वहीं आसपास के एक-दो मकान भी इससे क्षतिग्रस्त हुए हैं. घटना की जानकारी पर डीआईजी सुजीत कुमार, डीएम सुब्रत कुमार सेन, एसएसपी बाबू राम भारी पुलिस बलों के साथ मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लिया. घटनास्थल पर धेराबंदी कराते हुए दो जेसीबी लगाकर मलबा साफ कराने और उसमें दबे लोगों को निकालने का काम तेजी से शुरू कराया गया.

बढ़ सकती है मरने वालों की संख्या

इधर, घटना में घायलों लोगों को भागलपुर के जेएलएन अस्पताल मायागंज में भर्ती कराया गया है. प्रशासन की ओर से यह भी कहा जा रहा है कि मरने वालों की संख्या बढ़ भी सकती है. इस घटना को लेकर पड़ोसी युवक यूसुफ ने आरोप लगाया कि मकान वाले बम बनाने का धंधा करते हैं. फिलहाल पुलिस राहत बचाव के साथ इस पूरी घटना की जांच में जुटी है.

लोगों को लगा भूकंप आया

लोगों का कहना है कि धमाका इतना जोरदार था कि शहर के अधिकांश भागों में इसकी आवाज सुनाई दी. धमाके से विक्रमशिला कालोनी, रिकाबगंज, उर्दू बाजार, रामसर, जब्बारचक, इशाकचक, लालूचक, आदमपुर आदि इलाके में रहने वाले लोगों का घर हिल गया. उन्हें लगा कि भूकंप आया है. इसके बाद लोग घरों से बाहर निकल आए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here